"Advertisement"

Essay On Clean India Green India In Hindi In 250+ Words

Essay On Clean India Green India In Hindi In 250+ Words

हेलो फ्रेंड, इस पोस्ट “Essay On Clean India Green India In Hindi In 250+ Words” में हम एक निबंध के रूप में स्वच्छ भारत हरित भारत के बारे में विस्तार से पढ़ेंगे। तो…

चलो शुरू करते हैं…

Clean India Green India Essay In Hindi 300+ Words

स्वच्छता हमारे पर्यावरण से अशुद्धियों को दूर करने और हमारी जीवन शैली में शुद्धिकरण की शुरूआत है। अशुद्धता या गन्दगी न केवल हमें शरीर के स्तर पर हराती है बल्कि मानसिक रूप से भी हमें हराती है।

वहीं साफ-सफाई को देखकर न सिर्फ हमारा मन प्रफुल्लित हो जाता है बल्कि साफ-सफाई देखकर हमारे शरीर की सारी थकान दूर हो जाती है।

स्वच्छता और हरियाली दोनों का संयोजन एक साथ देखा जाए तो ऐसा लगता है जैसे सोने पर सुहागा हो गया हो। जिस प्रकार दीप बुझ जाने पर में दीपक का कोई मूल्य नहीं है, उसी प्रकार यदि हरियाली में स्वच्छता का वास न हो तो हरियाली का कोई मूल्य नहीं है। और स्वच्छता भी हरियाली का पूरक है।

साफ-सफाई और हरियाली दोनों ही किसी भी प्रांत की पहचान और प्रतिष्ठा में अहम भूमिका निभाते हैं। यह ध्यान देने योग्य है कि स्वच्छता हमें प्रकृति के करीब लाती है। दूसरी ओर, अस्वच्छता हमें प्रकृति से दूर ले जाती है।

Must Read  How to Make Online Classes More Effective For Students

किसी भी देश की साफ-सफाई और हरियाली उस देश के राष्ट्रीय विकास का अहम हिस्सा होती है। जहां स्वच्छता और हरियाली है, वहां स्वास्थ्य और समृद्धि होती है।

देश का प्रत्येक व्यक्ति अच्छे स्वास्थ्य के परिणामस्वरूप अथक परिश्रम करता है जिसका सामाजिक, आर्थिक और व्यावसायिक स्तर पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है जिससे देश और देशवासियों की प्रगति की दर में वृद्धि होती है।

किसी भी देश की साफ-सफाई और हरियाली दूसरे देशों के निवासियों को उस देश की यात्रा के लिए आकर्षित करती है जो न केवल देश का गौरव बढ़ाता है बल्कि देश को आर्थिक रूप से भी लाभ पहुंचाता है।

किसी भी देश की साफ-सफाई और हरियाली का उस देश के भविष्य पर गहरा प्रभाव पड़ता है। स्वच्छता से घिरे युवा न केवल अपने आस-पास को स्वच्छ रखने के लिए प्रेरित होंगे बल्कि अपने विचारों में स्वच्छता के बीज भी बोएंगे।

Must Read  Harriet Tubman Essay | Essay On Harriet Tubman {Step by Step Guide}

हरियाली से प्यार करने वाले युवा दुनिया भर में भी हरियाली के रोपण में अपना योगदान देंगे, जो उनके मन में किसी भी काम में अपना पूरा योगदान देने की भावना पैदा करेगा।

Also Read:

Clean India Green India Essay In English

Essay On Clean And Healthy India In English

Essay On How I Spent My Lockdown Days

Essay On Clean India Green India In Hindi In 200+ Words

भारत को स्वच्छ और हरा-भरा बनाना सभी नागरिकों का सपना होना चाहिए। स्वच्छ भारत हरित भारत मिशन के साथ, हमें भारत को स्वच्छ बनाने पर ध्यान केंद्रित करना होगा और वनों की कटाई को रोकने और भारत में पेड़ों की संख्या बढ़ाने पर भी ध्यान केंद्रित करना होगा।

सबसे अच्छा तरीका यह है कि स्वच्छता अभियान की शुरुआत हमें अपने कमरे, किचन, घर और समाज से करनी चाहिए। हरित पर्यावरण और स्वच्छ जलवायु के बिना सतत विकास संभव नहीं है।

भारत को स्वच्छ और हरा-भरा बनाने में भी सरकार अहम भूमिका निभाती है। 2014 में भारत के प्रधान मंत्री द्वारा शुरू किया गया स्वच्छ भारत अभियान भारत को स्वच्छ और हरा-भरा बनाने के लिए एक अच्छी शुरुआत है।

Must Read  Poem On Gallantry Award Winner In Hindi {Step by Step Guide}

सरकार को हर शहर और कस्बे के पास वन बेल्ट बनाना चाहिए। हमें कुछ बुनियादी कदम भी उठाने चाहिए जैसे कि जब हम अपने घर से बाहर जाते हैं तो एक पुनर्नवीनीकरण बैग ले जाएं और कचरा इधर-उधर नहीं फेंकते हैं।

लोगों की मानसिकता में बदलाव की जरूरत है और साथ ही कचरे के निपटान के लिए सही तरीका खोजने और उसे लागू करने की भी जरूरत है। हमें केवल नई योजनाओं की ही नहीं बल्कि उनके सख्त क्रियान्वयन की भी जरूरत है।

यदि पर्यावरण स्वस्थ नहीं है तो हम स्वस्थ नहीं रह सकते। एक बार जब हमारा भारत स्वच्छ और हरा-भरा हो जाएगा, तो यह न केवल हमारे लिए बल्कि आने वाली पीढ़ियों के लिए भी फायदेमंद होगा।

आइए स्वच्छ और हरित भारत के अपने इस लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए मिलकर काम करें।

Also Read:

Essay On Work From Home Boon Or Bane

Article On Grow More Trees To Reduce Pollution

Short And Long Essay On Birthday Party

Thanks For Reading “Essay On Clean India Green India In Hindi In 250+ Words“.

Leave a Comment