"Advertisement"

2047 mein Mere Sapno Ka Bharat Kaisa Hoga {Step by Step Guide}

2047 mein Mere Sapno Ka Bharat Kaisa Hoga {Step by Step Guide}

हेलो दोस्तों, इस पोस्ट “2047 mein Mere Sapno Ka Bharat Kaisa Hoga“, में, हम 2047 mein Mere Sapno Ka Bharat Kaisa Hoga के बारे में निबंध के रूप में विस्तार से पड़ेंगे। तो…

चलो शुरू करते हैं…

2047 mein Mere Sapno Ka Bharat Kaisa Hoga

मैं भारत देश का निवासी हूं और मुझे अपने देश पर गर्व है। मैं 2047 में अपने सपनों के भारत को एक महान देश के तौर पर कल्पना करता हूं।

2047 में मेरे सपनों का भारत ऐसा होगा जिसमें सभी देशवासी सुख-शांति से रहेंगे। यह भारत प्राचीन गौरवशाली भारत के समान होगा। प्राचीन काल में भारत को सोने की चिड़िया कहा जाता था।

मैं 2047 में एक ऐसे भारत की कल्पना करता हूं जिसमें आर्थिक संपन्नता हो, हमारा जीवन समृद्ध हो और हम किसी देश के सम्मुख हाथ ना फैलाएं।

भारत सांस्कृतिक एवं आध्यात्मिक दृष्टि से विश्व का मार्गदर्शक रहा है. हमारे नालंदा और तक्षशिला विश्वविद्यालय में विश्व भर से विद्यार्थी पढ़ने आया करते थे। आज हम विदेश में जाकर शिक्षा ग्रहण करने में गौरव का अनुभव करते हैं।

Must Read  Essay On Russia Ukraine Conflict | Essay On Russia Ukraine War

हम 2047 तक ऐसे भारत की कल्पना करते हैं जिसमें एक बार फिर सांस्कृतिक और आध्यात्मिक दृष्टि से विश्व का नेतृत्व करने में सक्षम हो। हमारी संस्कृति विश्व का श्रेष्ठ संस्कृतियों में से एक है।

हमें गर्व है कि भारत में विभिन्न जातियों, धर्मों, वर्गों के लोग एक साथ मिलकर रहते हैं। हमारा सांस्कृति विविधता में एकता के लिए जाना जाता है। पिछले कुछ दशकों में भारत के लिए विभिन्न उद्योगों में भी तेजी देखी गई है।

2047 तक भारत को एक खुशहाल देश बनाने के लिए हमें कुछ निम्न क्षेत्रों में कार्य करना होगा जैसे कि शिक्षा, गरीबी मुक्त भारत, स्वास्थ्य सेवा को बेहतर बनाना, स्वच्छता, आत्मनिर्भरता, कौशल-विकास, पर्यावरण की संरक्षण, जल संरक्षण, कुटीर उद्योग, समानता के अवसर प्रदान करना, शोषण मुक्त, आतंकवाद मुक्त इत्यादि।

Must Read  Walden Summary | Walden by Henry David Thoreau Summary

Also Read:

2047 me Mere Sapno Ka Bharat Kaisa Hoga In English

2047 में मेरे सपनो का भारत कैसा होगा पर निबंध

स्वतंत्रता संग्राम के गुमनाम नायकों पर पोस्टकार्ड

मैं 2047 में ऐसे भारत की कल्पना करता हूं जिसमें पूंजीपति लोग, राजनीतिक में सक्रिय लोग इत्यादि किसी भी किसान, मजदूर आम जनता का शोषण नहीं कर पाएंगे। उस भारत में सभी लोगों को समान अवसर मिलेगा एवं छोटा-बड़ा ऊंच-नीच का भेदभाव नहीं होगा।

मैं भारत के रूप में एक पूर्ण रूप से लोकतांत्रिक देश की कल्पना करता हूं जहां सभी नागरिक स्वतंत्रता का उपभोग कर सकेंगे और सभी राजनीतिक दल को देश के संविधान के अंतर्गत कार्य करने की स्वतंत्रता होगी।

2047 में मेरे सपनों का भारत ऐसा होगा जहां विभिन्न जातियों, धर्मों, समूहों, आर्थिक और सामाजिक लोग एक साथ मिलजुल कर जीवन यापन करते रहेंगे और देश की युवा विभिन्न संस्थानों में प्रवेश पाकर अच्छी शिक्षा ग्रहण करने के उपरांत आर्थिक, सैन्य आदि सभी तरीके से देश के वृद्धि में अपना योगदान देंगे।

Must Read  महात्मा गांधी का ग्राम स्वराज एवं छत्तीसगढ़ पर निबंध हिंदी में

2047 में मेरे सपनों का भारत ऐसा भारत होगा जिसमें गांधी जी के रामराज्य का आदर्श होगा एवं देश में कहीं भी भ्रष्टाचार इत्यादि नहीं होगा। हर व्यक्ति को अपने राष्ट्र के प्रति ऐसा प्रेम हो जैसा कि एक मां को अपने बच्चे के प्रति होती है तभी मेरे सपनों के भारत का सपना पूरा हो सकेगा।

इस पोस्ट “2047 mein Mere Sapno Ka Bharat Kaisa Hoga“, को पढ़ने के लिए आप सभी लोगों का दिल से धन्यवाद।

इस पोस्ट “2047 mein Mere Sapno Ka Bharat Kaisa Hogaa“, से संबंधित यदि आपका कोई प्रश्न है तो कृपया कमेंट जरूर करें।

Also Read:

2047 me Mere Sapno Ka Bharat Kaisa Hoga In English

Postcard On Unsung Heroes Of Freedom Struggle In English

Postcard On My Vision Of India In 2047 In English

10 Lines On My Vision For India In 2047 In Hindi

Leave a Comment